Ho Gayi hai peer parvat se pighalani chahiye- Hindi Kavita by Dushyant Kumar


हो गई है पीर पर्वत-सी पिघलनी चाहिए,
इस हिमालय से कोई गंगा निकलनी चाहिए,.,!!

आज यह दीवार, परदों की तरह हिलने लगी,
शर्त लेकिन थी कि ये बुनियाद हिलनी चाहिए,.,!!

हर सड़क पर, हर गली में, हर नगर, हर गाँव में,
हाथ लहराते हुए हर लाश चलनी चाहिए,.,!!

सिर्फ हंगामा खड़ा करना मेरा मकसद नहीं,
सारी कोशिश है कि ये सूरत बदलनी चाहिए,.,!!

मेरे सीने में नहीं तो तेरे सीने में सही,
हो कहीं भी आग, लेकिन आग जलनी चाहिए,.,!!





***************************************************************

Ho gayi hai peer parvat si pighalni chahiye
Is himalaya se koi ganga nikalni chahiye

Aaj yah deewar pardon ki tarah hilne lagi
Shart lekin thi ke ye buniyad hilni chahiye

Har sadak par , har gali me, har nagar har gano me
Haath lahrate huye har lash chalni chahiye

Sirf Hangama khada karna mera maksad nahi
Sari koshish hai ke ye soorat badalani chahiye

Mere seene me nahi to tere seene me hi sahi
Ho kahi bhi aag lekin aag jalni chahiye

Mat Kaho Aakash me kohra ghana hai- Hindi Kavita by Dushyant Kumar


मत कहो आकाश में कोहरा घना है,
यह किसी की व्यक्तिगत आलोचना है,.,!!

सूर्य हमने भी नहीं देखा सुबह का,
क्या करोगे सूर्य का क्या देखना है,.,!!

हो गयी हर घाट पर पूरी व्यवस्था,
शौक से डूबे जिसे भी डूबना है,.,!!

दोस्तों अब मंच पर सुविधा नहीं है,
आजकल नेपथ्य में सम्भावना है,.,!!





*******************************************************************
Mat kaho aakash me kohara ghana hai
Yah kisi ki vyaktigat aalochana hai 

Surya hamne bhi nahi dekha subah ka
Kya karo ge surya ka kya dekhna hai

Ho gayi har ghat par puri vyavastha
shauk se doobe jise bhi doobna hai

Dosto ab manch par suvidha nahi
Aaj kal nepathaya me sambhavna hai

Hindi SMS, Royal (Nawabi) Urdu Sher, 2 Liners, Shayri, Kavita, Ghazal, Shayri Collection in Hindi Font Part-22

इन्हीं रास्तों ने जिन पर मिरे साथ तुम चले थे
मुझे रोक रोक पूछा तिरा हम-सफ़र कहाँ है,.,.??

Inhi raston ne jin par mere sath tum chale the
Mujhe rok rok poochha tera hamsafar kahan hai ??

------------------------------------------------------------------------------

उदास रहता है मोहल्ले में बारिशो का पानी आजकल...
सुना है कागज की नाव बनाने वाले बड़े हो गए...!!!

Udaas rahta hai mohalle me barishon ka paani aajkal
Suna hai kagaj ki naav banane wale bade ho gaye



------------------------------------------------------------------------------

माना कि इस ज़मीं को न गुलज़ार कर सके
कुछ ख़ार कम तो कर गए गुज़रे जिधर से हम,.,!!

Maana ki is jamin ko na guljaar kr sake
Kuchh khar to kam kar gaye gujare jidhar se ham



------------------------------------------------------------------------------

उन का ग़म उन का तसव्वुर उन की याद
कट रही है ज़िंदगी आराम से,.,!!

Unka gam unka tasavvur unki yaad
Kat rahi hai jindagi aaram se



------------------------------------------------------------------------------

मुँह छुपाना था तुम्हें पहले ही रोज़
अब किया पर्दा तो क्या पर्दा किया,.,!!!

Muh chhupana tha tumhe to pahle hi roj
Ab kiya parda to kya parda kiya




------------------------------------------------------------------------------

अब तो इंसान ही रह गये है...
इंसानियत तो कब की मर गयी....!!!

Ab to insan hi rah gaye hain
Insaniyat to kab ki mar gayi



------------------------------------------------------------------------------

दुश्मनों के साथ मेरे दोस्त भी आज़ाद हैं
देखना है खींचता है मुझ पे पहला तीर कौन,.,!!!

Dushamano ke sath mere dost bhi aajad hain
Dekhna hai ke kheenchta mujhpe pahla teer kaun



------------------------------------------------------------------------------

मेरी हर बात को उल्टा वो समझ लेते हैं
अब कि पूछा तो ये कह दूँगा कि हाल अच्छा है,.,!!!

Meri har bat ko ulta wo samajh lete hain
Ab ki poochha to ye kah dunga ki haal achha hai



------------------------------------------------------------------------------

कुछ इस अदा से मिरे साथ बेवफ़ाई कर
कि तेरे बाद मुझे कोई बेवफ़ा न लगे,.,!!

Kuchh is adaa se mere sath bewafai kar
Ki tere bad mujhe koi bewafa na lage



------------------------------------------------------------------------------

कुछ कह रही हैं आप के सीने की धड़कनें
मेरा नहीं तो दिल का कहा मान जाइए ,.,!!

Kuchh kah rahi hain aapke seene ki dhadkane
Mera nahi to dil ka kaha maaan jaiye



------------------------------------------------------------------------------

दिल हर किसी के लिए नहीं धड़कता ,.,
धड़कनों के भी अपने कुछ उसूल होते हैं ,.,!!!

Dil har kisi ke liye nahi dhadkata
Dhadkano ke bhi apne kuchh usool hote hain



------------------------------------------------------------------------------

बहुत गुमनाम से है चाहत के रास्ते
तू भी लापता... मैं भी लापता.!!!

Bahut gumnaam se hai chahat ke raste
Tu bhi laapta .. main bhi laapta



------------------------------------------------------------------------------

मत सोच इतना जिन्दगी के बारे में..
जिसने जिन्दगी दी है उसने भी तो कुछ सोचा होगा,.,!!!

Mat soch itna jindagi ke bare me
Jisne jindagi di hai usne bhi to kuchh socha hoga



------------------------------------------------------------------------------

उनकी एक झलक पे ठहर जाती है नज़र....खुदाया !
कोई हमसे पुछे...दीवानगी क्या होती है ,.,!!!

Unki ek jhalak pe thahar jati hai najar.. khudaya
Koi hamse poochhe deewangi kya hoti hai



------------------------------------------------------------------------------

अकेला वारिस हूँ उसकी तमाम नफरतों का,
जो शख्स सारे शहर में प्यार बाटंता है,.,!!!

Akela vaaris hun uski tamam nafraton ka
Jo shaksh sare shehar me pyar bantata hai



------------------------------------------------------------------------------

एक शर्त है साकी
आज होठों से पिला

Ek shart hai saaki
Aaj hontho se pila



------------------------------------------------------------------------------

सपना टूटा आँख में, नीद हुई अब दूर
मन आतुर प्रिय मिलन को, बारिश से मजबूर,.,!!!

Sapna toota aankh me, neend hui ab door
Man aatur priya milan ko baarish se majboor



------------------------------------------------------------------------------

जब भी होती है गुफ्तगु खुद से,
ज़िक्र तेरा जरूर होता है,.,!!

Jab bhi hoti hai guftgoo khud se
Jikra tera jaroor hota hai



------------------------------------------------------------------------------

सूखते पत्ते ने डाली से कहा, 'चुपके से अलग करना'..
वरना..
'लोगों का रिश्तों से भरोसा उठ जायेगा'.!!!

Sookhte patte ne daali se kaha chupake se alag karna varna
Logo ka rishton se bharosa uth jaaye ga



------------------------------------------------------------------------------

ऐ मौत आ के हमको खामोश तो कर गई तू,
मगर सदियों दिलों के अंदर, हम गूंजते रहेंगे,.,!!!

Ae maut aa ke hamko khamosh to kar gayi tu
Magar sadiyon dilon ke andar ham goonjate rahe ge



------------------------------------------------------------------------------

काट कर मेरी जुबां कर गया खामोश मुझे !
बेखबर को नहीं मालूम कि "मन" बोलता है !!

Kaat kar meri jaban kar gaya khamosh mujhe
Bekhabar ko nahi malum ki man bolta hai



------------------------------------------------------------------------------

बारिश में चलने से एक बात याद आई,
फिसलने के डर से वो मेरा हाथ पकर लेती थी...!!!

Barish me chalne se ek baat yaad aayi
Fisalne ke dar se wo mera haath pakad leti thi



------------------------------------------------------------------------------

ये कसूर तुम्हारा नहीं, तुम्हारी इन आँखों का है,
नहीं संभलती देख, इश्क में बरबाद लोगों को।

Ye kasoor tumhara nahi tumhari in aankhon ka hai
Nahin sambhalti dekh ishq me barbad logo ko



------------------------------------------------------------------------------

ख्वाईशो घर भरा पडा है इस कदर ,,,,
के रिश्ते जरा सी जगह को तरसते है ,,!!

Khwaishon se ghar bhara pada hai is kadar
Ke rishte jara si jagah ko tarasate hain



------------------------------------------------------------------------------

काश मैं लौट जाऊँ बचपन की उन गलियों में ~
जहां ना कोई ज़रूरत थी, ना कोई ज़रूरी था..!!

Kaash mai laut jaun bachpan ki un galiyon me
Jahan na koi jarurat thi na koi jaruri tha



------------------------------------------------------------------------------

मुद्दत से कोई उसकी छाँव में नहीं बैठा...
वो छायादार पेड़ इसी गम में सुख गया...!!

Muddat se koi uski chhano me nahi baitha
Wo chhayadar ped isi gam me sookh gaya



------------------------------------------------------------------------------

शायद तुम कभी प्यासे मेरी तरफ लौट आओ...
आँखों में लिए फिरती हूँ दरिया.. तुम्हारे लिए...!!

Sayad tum kabhi pyaase meri taraf laut aao
Aankhon me liye firti hu dariya tumhare liye



------------------------------------------------------------------------------

कितने ऐश से रहते होंगे कितने इतराते होंगे
जाने कैसे लोग वो होंगे जो उस को भाते होंगे...

यारो कुछ तो ज़िक्र करो तुम उस की क़यामत बाँहों का
वो जो सिमटते होंगे उन में वो तो मर जाते होंगे...!!!

Kitne aish se rahte honge kitne itarate honge
Jane kaise log wo honge jo usko bhate honge

Yaaron kuchh to jikra karo uski kayamat bahon ka
Wo jo simatate honge unme wo to mar jate honge



------------------------------------------------------------------------------

तुम्हारे चाँद से चेहरे की अगर दीद हो जाए ,.,
कसम अपनी आँखों की ,हमारी ईद हो जाए ,.,!!!

Tumhare chand se chehare ki agar deed ho jaaye
Kasam apni aakhon ki hamari eed ho jaye


------------------------------------------------------------------------------

नया नया शौक उन्हे रुठने का लगा है...
खुद ही भूल जाते है कि रूठे किस बात पे थे...!!

Naya naya shauk laga hai unhe roothane ka
Khud hi bhool jate hain k roothe kis bat pe the



------------------------------------------------------------------------------

मैं अपनी मोहब्बत में बच्चों की तरह हूँ
जो मेरा है बस मेरा है, किसी और को क्यों दूँ ,.,!!!

Main apni mohabbat me bachhon ki tarah hu
Jo mera hai bas mera hai kisi aur ko kyu dun



------------------------------------------------------------------------------


तुझे क्या देखा, खुद को ही भूल गए हम इस क़दर..
कि अपने ही घर आये तो औरों से पता पूछकर,.,!!!

Tujhe kya dekha khud ko hi bhool gaye ham is kadar
Ki apne hi ghar aaye hain auron se pata poochh kar



------------------------------------------------------------------------------

बड़े अनमोल हे ये खून के रिश्ते
इनको तू बेकार न कर ,
मेरा हिस्सा भी तू ले ले मेरे भाई
घर के आँगन में दीवार ना कर.

Bade anmol hai ye khoon ke rishte
Inko tu bekaar na kar
Mera hissa bhi tu le le mere bhai
Ghar ke aangan me deewar na kar



------------------------------------------------------------------------------


उनसे कह दो मेरी सजा कुछ कम कर दे..
हम पेशे से मुजरिम नहीं बस गलती से इश्क़ हुआ था.


Unse kah do meri saja kuchh kam kar de
Ham peshe se mujrim nahi bas galti se ishq hua tha



------------------------------------------------------------------------------

एक छोटा गुनाह मोहब्बत का,
उम्र भर का हिसाब लेता है....!!!


Ek chhota sa gunaah mohabbat ka
Umra bhar ka hisaab leta hai



------------------------------------------------------------------------------


यूं समझ लो कि,
लगी प्यास गज़ब की थी और पानी में जहर भी था,
पीते तो मर जाते और न पीते तो भी मर जाते...!!! 


Yun samajh lo ki lagi pyaad gajab ki thi aur pani me jahar bhi tha
Peete to mar jate aur na peete to bhi mar jate 

Funny Jokes in Hindi Font, Hindi Funny SMS


कितनी मिन्नते की दर दर की ठोकरे खाई माँ बाप ने की एक बेटा हो जाये... :D :P :)
और वो हरामखोर Angel priya बने घुम रहा है

******************************

आजकल मोटेरसायकील पर पीछे बैठी लड़की
गर्ल फ्रेंड की जगह ऐसी लगती है,
जैसे विक्रम के ऊपर बेताल लटका :D

******************************

दीवाली के Rocket को देख के यह एहसास हुआ कि
.
.
.
अगर जीवन में ऊँचाइयों तक पहुँचना है तो,
बोतल का सहारा तो लेना ही  पड़ेगा !! :P

******************************

सबसे दुखदाई ब्रेकअप चीन में होते हैं...
हर तरफ उसी का चेहरा दिखाई देता है...!!! :(

******************************

मी::हम तूम एक कमरे में बंद हो
                 और चाबी खौ जाए

सी::हा लेकिन सिर्फ As Friend :D ;)

******************************

यहाँ साला मेरे घर में ढंग का 2G नेटवर्क नहीं आता
और वहां तालिबान वाले गुफाओं में बैठकर YouTube पे वीडियो अपलोड कर रहे हैं...! :P

******************************




हाईकोर्ट ने आज ये स्पष्ट किया है क़ि
अगर पत्नी घर की लक्ष्मी  है .
तो
गर्ल फ्रैंड
काला धन माना जायेगा :D

******************************

आज कल तो जनता CBI पर भी भरोशा नही करती ।
और एक हमारा बचपन था, हम तो आदा -पादा मे ही गुनहगार को पकड़ लेते थे । :P :P

******************************

लड़की ने प्यार से लडके के सीने पर अपना सर
रखा और बोली
दिल कितना कुरकुरा है
Boy-दिल नहीं रजनीगंधा तुलसी है
खायेगी? :D :P

Hindi SMS, Royal (Nawabi) Urdu Sher, 2 Liners, Shayri, Kavita, Ghazal, Shayri Collection in Hindi Font Part-21

इन चराग़ों में तेल ही कम था
क्यूँ गिला फिर हमें हवा से रहे...!!

In Charagon me tel hi kam tha
Kyun gila fir hame hawa se rahe

-------------------------------------------------

रूह में,दिल में,जिस्म में दुनिया,
ढूंढता हूँ मगर नही मिलती.
लोग कहते हैं रूह बिकती है,
मैं जिधर हूँ उधर नही मिलती,.,!!!

Rooh me, Dil me, Jism me duniya
Dhundta hun magar milti nahi
Log kahte hain rooh bikti hai
Mai jidhar rahta hu udhar milti nahi

-------------------------------------------------

मेरी रूह गुलाम हो गई है, तेरे इश्क़ में शायद ..
वरना यूँ छटपटाना , मेरी आदत तो ना थी...!!!

Meri rooh gulam ho gayi hai tere ishq me sayad
Varna yu chhatpatana meri aadat na thi

-------------------------------------------------

ना जाने वो आइना कैसे देखते होंगे
जिसकी आखो को देख दुनिया फना हैं,.,!!!

Na jaane wo aaina kaise dekhte honge
Jiski aankho ko dekh duniya fana hai

-------------------------------------------------

सुनो
सारा जहाँ उसी का है जो
मुस्कुराना जानता है~~!!

Suno sara jahan usi ka hai jo
Muskarana janta hai

-------------------------------------------------

एक तेरी नफरत पर भी तो लूटा दी ज़िन्दगी हमने..
सोचो अगर तुम्हे मोहब्बत होती तो हम क्या करते...??




-------------------------------------------------

आईने में वो देख रहे थे बहार-ए-हुस्न
आया मेरा ख़याल तो शर्मा के रह गए,.,!!

-------------------------------------------------

बरसात का बादल तो दीवाना है क्या जाने
किस राह से बचना है किस छत को भिगोना है,.,!!!

-------------------------------------------------

मुस्कुराते हुए चेहरे ,हैं
छुपाये राज गहरे,.,.!!!

-------------------------------------------------

आज दिल उदास नहीं,
अहसास है तू पास नहीं.
लब हस्ते हैं मेरे,
झूट हैं या सच कोई सवाल नहीं.,.,!!!

-------------------------------------------------

छीन कर हाथो से सिगार वो कुछ इस अंदाज़ से बोली,
कमी क्या है इन होठोंमें जो तुम सिगरेट पीते हो...!!!

-------------------------------------------------

जिंदगी बस इतना अगर दे तो काफी हैं,
सर से चादर न हटे, पांव भी चादर में रहे,.,!!!

-------------------------------------------------

शिकायते तो हमे तुम्हारी आखो के काजल से है
जो हमारे जाने बाद चमकते हुए चहरे पर दाग लगा देता है,.,!!!

-------------------------------------------------

अब तो दिन में भी चेहरे धुंधले नजर आते हैं
लगता है उजालों में अँधेरे की मिलावट है,.,!!!

-------------------------------------------------

इलाही कैसी कैसी सूरते तुमने बनाई हैं
कि हर सूरत कलेजे को लगा लेने के काबिल है,.,!!

-------------------------------------------------

अपना नाम तक भूल गया हुँ तुम्हारे शहर में
जब से लोग तुम्हारे नाम से जानने लगे है,.,!!!

-------------------------------------------------

अब कटेगी ज़िन्दगी सुकून से ...
अब हम भी मतलबी हो गए हैं,.,!!!

-------------------------------------------------

मुकम्मल थी वो गुफ्तगू बिना अल्फाज़ों के भी कुछ यूं,
उसकी उंगलियाँ बोल रही थीं उनकी ज़ुल्फ़ों से.!!

-------------------------------------------------

कभी मुँह मे उसका नाम तो कभी सिगरेट का साथ
मेरे होंठो ने हमेशा चिंगारियां ही पसंद की,.,!!!

-------------------------------------------------

तेरे दावे हैं तरक्की के.. तो फिर ऐसा क्यों है
मुल्क मेरा आज भी.. फुटपाथ पर सोता क्यों है,.,???



-------------------------------------------------

तुम्हारा शक सिर्फ हवाओ, पे गया होगा..
चिराग खुद भी तो जल,जल के थक गया होगा..!!!

-------------------------------------------------

होती है ज़रूरत अमीर के बच्चों को "खिलोनों" की..
गरीब के बच्चे तो एक "बोरी" में भी खुशिया तलाश लेते है...!!

-------------------------------------------------

दिल टूटने से थोड़ी सी तकलीफ़ तो हुई
लेकिन तमाम उम्र को आराम हो गया,.,!!!

-------------------------------------------------

बेपरवाह.., लापरवाह.., बागी होते हैं..,
नंगे पाँव चलने वाले..,
अक्सर नई दिशाओं को पदचिन्ह दे जाते हैं.. !!

-------------------------------------------------

सीखा है हमने जिंदगी से एक तजुर्बा..
जिम्मेदारी इन्सान को वक़्त से पहले बड़ा बना देती है..!!!

-------------------------------------------------

फाकों में ही गुज़र जाता है पूरा दिन.!!
ऊपर वाला न जाने कब हमारा रोजा खोलेगा.!!!

-------------------------------------------------

जब हुयी थी पहली बारिश,
तुमको सामने पाया था,

वो बुंदो से भरा चेहरा,
तुम्हारा हम कैसे भूला पायेंगे..!!!



-------------------------------------------------

अगर है गहराई ...
तो चल डुबा दे मुझ को,
समंदर नाकाम रहा ...
अब तेरी आँखो की बारी है !!!

-------------------------------------------------

तेरा सरसरी निगाह से देखना
और नजरे चुरा लेना ...
बस तस्सली देता है
अब हम अजनबी तो नहीं !!!

-------------------------------------------------

फिर से तेरी यादें मेरे दिल के दरवाजे पे खड़ी हैं
वही मौसम, वही बारिश, वही दिलकश ‘महीना है,.,!!

-------------------------------------------------


गजब के खरीदार है वो राह-ए- इश्क के !
वो मुस्कुरा देते है और हम बिक जाते है !!

-------------------------------------------------

शीशा टूटे ग़ुल मच जाए
दिल टूटे आवाज़ न आए,.,!!!

-------------------------------------------------

वो जो हाथ तक से छुने को बे-अदबी समझता था..
गले से लगकर बहोत रोया बिछडने से जरा पहले..!!

-------------------------------------------------

बादलो से कह दो जरा सोच समझकर बरसे,
अगर मुझे उसकी याद आ गयी तो मुकाबला बराबरी का होगा..!!

-------------------------------------------------

तेरी तिरछी नज़र का तीर है मुश्किल से निकलेगा
दिल उसके साथ निकलेगा, अगर ये दिल से निकलेगा,.,!!!

-------------------------------------------------

तुम पर भी यकीन है और मौत पर भी ऐतबार है
देखें पहले कौन मिलता है , हमें दोनों का इंतजार है ..!!!

-------------------------------------------------

चुप्पियों पर चुटकियाँ लेते थे खूब जो
अपनी ही चुप्पियों पर कुछ कहते नहीं बनता,.,!!!

14 September Hindi Divas - Garv se hindi boliye sharm se nahi


आज हिंदी दिवस है १४ सितम्बर
पर आपने कभी ध्यान दिया है के हिंदी  इस्तेमाल कितना काम होता जा रहा है , बचपन से अब में कितना अंतर है
अब तो माँ भी अपने बच्चे को अंग्रेजी में ही खाना खिलाती है , सुसु करवाती है , दूर भगाती है , पास बुलाती है
किसी रेस्टॉरेंट में जाइये वहां देखिये , एक सरकारी ऑफिस छोड़ के लगभग सभी जगहों से हिंदी का इस्तेमाल कम हो रहा है

imgsource

स्कूलों में हिंदी बोलने पे फाइन लगता है,.,.,अरे अच्छी बात है अंग्रेजी सिखाओ , फ्रेंच सिखाओ लेकिन लड़के को ये तो पता हो के कैशियर को कोषाध्यक्ष  बोलते हैं
अभी आप किसी आज के लड़के से पूछो किंकर्तव्यविमूढ़ कौन सी स्थिति होती हैं ;) ,., फिर पता चले गा के हिंदी की स्थिति क्या है
अरे इस देश का नाम हिंदुस्तान है , यार ये हिंदी भाषा का देश है। क्या हम हिंदी का स्तर ऐसा नहीं कर सकते के बाहर के लोग हिंदी सीखे , ये इसलिए है क्यों की हम खुद हिंदी को ओछी नजरों से देखते हैं




अब तो यार गूगल एडसेंस ने भी हिंदी को सपोर्ट करना शुरू कर दिया है, ट्विटर ने हिंदी हैशटैग सपोर्ट करना शुरू कर दिया ;)  , हमारी तो फिर भी मातृभाषा है

कोशिश करके देखिये इतनी भी मुश्किल नहीं है हिंदी और हिंदी का इस्तेमाल और वो भी गर्व के साथ :) :)

Hindi SMS, Royal (Nawabi) Urdu Sher, 2 Liners, Shayri, Kavita, Ghazal, Shayri Collection in Hindi Font Part-20

आ कर ख़यालों में मेरे, बाकि जहाँ बेखयाल कर जाते हो
हमें भी सिखा दो हुन्नर.....कैसेयह कमाल कर जाते हो,.,!!!

Aa kar khayalon me mere , baki jahan bekhayal kar jate ho
Hame bhi sikha do hunar, kaise ye kamal kar jate ho

---------------------------------------------------------------------------------

किरदार में लफ्जों के मेरे, कुछ ऐसे बदल हो जाती है
बात जब भी करता हूँ तेरी.....बात ग़ज़ल हो जाती है,.,!!

Kirdar me lafjon ke mere , kuchh aise badal ho jati hai
Baat jab bhi karta hun teri, bat ghazal ho jati hai

--------------------------------------------------------------------------------- 

किसी के वास्ते थोड़ा सा मुस्कुराना फिर,
बनेगा दर्द का ये दिल मेरा निशाना फिर,.,!!!

Kisi ke vaste thoda sa muskurana fir
Bane ga dard ka ye dil nishana fir

--------------------------------------------------------------------------------- 

ना खुशी खरीद पाता हूं और ना गम बेच पाता हूं
फिर भी ना जाने क्यूं हर रोज बाजार जाता हूं,.,!!!

Na khushi khareed pata hu aur na gham bech pata hun
Fir bhi na jane kyu har roj bajar jata hun

--------------------------------------------------------------------------------- 

तेरी कुर्बत भी नहीं है मयस्सर...
और देखो , दिन भी बारशो के आ गए ....!!!

Teri kurbat bhi nahi mayassar
Aur dekho din bhi barishon ke aa gaye

--------------------------------------------------------------------------------- 

एक दुःख पे हज़ार आंसू,
उफ़ आँखों की ये फज़ूल खर्चियाँ ,.,!!!

Ek dukh pe hajar aansoo
Uf ye aankhon ki fijoolkharchiyan




--------------------------------------------------------------------------------- 

अंदाज़ अपना देखते हैं आईने में वो
और ये भी देखते हैं कोई देखता न हो...!!!

Andaj apna dekhte hai aaine me wo
Aur ye bhi dekhte hain koi dekhta na ho

--------------------------------------------------------------------------------- 

अभी आए अभी जाते हो जल्दी क्या है दम ले लो
न छोड़ूँगा मैं जैसी चाहे तुम मुझ से क़सम ले लो...!!!

Abhi aaye abhi jate ho jaldi kya hai dam le lo
Na chhodu ga mai jaisi chahe tum mujhse kasam le lo

--------------------------------------------------------------------------------- 

सुनो..
बहुत गहरा नाता है तुम्हारी उदासी से मेरी उदासी का,.,!!!

Suno bahut gahra nata hai tumhari udaasi se meri udaasi ka

--------------------------------------------------------------------------------- 

अभी मौत आई थी हमारे पास गुस्से मे बोल गई "जान ले लुन्गी तेरी
मैने भी हँस कर कहा तु जिस्म लेजा जान तो कोई और ले गई.....!!!

Abhi maut aayi thi hamare pas gusse me bol gaye "Jaan le lungi teri"
Maine bhi hans kar kaha tu jism leja jaan to koi aur le gayi

--------------------------------------------------------------------------------- 



मुँह छुपाना था तुम्हें पहले ही रोज़
अब किया पर्दा तो क्या पर्दा किया,.,!!!

Muh chhupana tha tumhe pahle hi roj
Ab kiya parda to kya parda kiya

--------------------------------------------------------------------------------- 

देखो अब बिन बादल भी मौसम बरस जाता है
क्या तुमको एक बार भी मुझ पर तरस नहीं आता है??

Dekho ab bin badal bhi mausham baras jata hai
Kya tumko ek bar bhi mujh par taras nahi aaata hai?

--------------------------------------------------------------------------------- 

आज एक एक शेर दिल के पार होने वाला है ,.,
तेरे शहर में आज कोई क़त्ल होने वाला है ,.,!!!

Aaj ek sher dil ke par hone wala hai
Tere shehar me aaj koi katl hone wala hai

--------------------------------------------------------------------------------- 

ये मिरा तजरबा है हुस्न कोई चाल चले
बाज़ी-ए-इश्क़ कभी मात नहीं होती है..!!

Ye mera tajrba hai hush koi chal chale
Baaji-e-ishq ki kabhi maat nahi hoti

--------------------------------------------------------------------------------- 

कुछ रिश्तो में इंसान अच्छा लगता है,
और कुछ इंसानों से रिश्ता अच्छा लगता है..!!

Kuchh rishton me insan achha lagta hai
Aur kuchh insano se rishta achha lagta hai

--------------------------------------------------------------------------------- 

गिरते -गिरते एक दिन , आखिर सँभलना आ गया
जिन्दगी को वक्त की , रस्सी पे चलना आ गया..!!!

Girte girte ek din aakhir sambhalna aa gaya
Jindagi ko waqt ki rassi pe chalna aa gaya

--------------------------------------------------------------------------------- 

ज़रूरी नहीं की कुछ तोड़ने ,के लिए पत्थर ही उठाओ ,
लहजा बदल कर बोलने से भी,अक्सर दिल टूट जाते है ....!!!

Jaruri nahi ki kuchh todne ke liye patthar hi uthao
Lahja badal kar bolne se bhi aksar dil toot jate hain

--------------------------------------------------------------------------------- 

कहना बहुत कुछ है, अल्फाज़ जरा कम हैं
खामोश से तुम हो, गुमसुम से हम हैं....!!!

Kahna bahut kuchh hai alfaaj jara kam hai
Khamosh se tum ho, gumshum se ham hain

--------------------------------------------------------------------------------- 

धीरे धीरे से खत्म होता जा रहा है..
वजूद कुछ उनका वजूद कुछ हमारा..!!!

Dheere dheere se khatm hota ja raha hai
Wajood kuchh unka wajood kuchh hamara

--------------------------------------------------------------------------------- 

तुझको देखा तो फिर उसको ना देखा
ग़ालिब..
चाँद कहता रह गया, मैं चाँद हूँ मैं चाँद हूँ,.,!!!

Tujhko dekha to fir usko na dekha ghalib
Chand kahta rah gaya , main chand hun main chand hun

--------------------------------------------------------------------------------- 

घर आकर बहुत रोए थे माँ बाप अकेले मे ...
मिटटी के खिलौने भी सस्ते ना थे मेले मे.,.,!!!!

Ghar aakkar bahut roye ma baao akele me
Mitti ke khilaune bhi saste na the mere me

--------------------------------------------------------------------------------- 

रिश्वत भी नहीँ लेता कमब्खत जान छोड़ने की..!!
ये तेरा इश्क भी मुझको "केजरीवाल" लगता है. .!!

Rishwat bhi nahi leta kambakht jaan chhodne ki
Ye tera ishq bhi mujhko kejriwali lagta hai

--------------------------------------------------------------------------------- 

कौन कहता है बढ़ा शौक़ इधर से पहले
किसने देखा था किसे तिरछी नज़र से पहले,.,!!!

Kaun kahta hai badha shauk idhar se pahle
Kisne dekha tha kise tirchhi najar se pahle

--------------------------------------------------------------------------------- 

मरीजे-इश्क़ पर रहमत खुदा की,
मर्ज़ बढ़ता गया ज्यों-ज्यों दवा की,.,!!!

Mareej-e-ishq par rahmat khuda ki
Marj badhta gaya jyon jyon dawa ki

--------------------------------------------------------------------------------- 

किसी की याद आती है तो ये भी याद आता है
कहीं चलने की ज़िद करना मेरा तय्यार हो जाना,.,!!!

Kisi ki yaad aati hai to ye bhi yaad aata hai
Kahin chalne ki jid karna mera taiyaar ho jana

--------------------------------------------------------------------------------- 

अधूरा कर के अफ़साना उसने कहा,
पूरी हो हर दास्ताँ, जरुरी तो नहीं,.,!!!

Adhoora karke afsana usne kaha
Puri ho har dastan jaruri to nahi

--------------------------------------------------------------------------------- 

तेरे आने पर जाना मैने..
कहीं ना कहीं ज़िन्दा हूँ मै...!!

Tere aane par jana maine
Kahi na kahi jinda hun main

--------------------------------------------------------------------------------- 

दर दर भटक रही थी पर दर नहीं मिला ,.,
उस माँ के चार बेटे हैं , पर रहने को घर नहीं मिला ,.,!!

Dar dar bhatak rahi thi par dar nahi mila
Us ma ke char bete the par rahne ko ghar nahi mila

--------------------------------------------------------------------------------- 

कोई वक़्त बतला कि तुझ से मिलूँ
मिरी दौड़ती भागती ज़िंदगी...!!

Koi waqt batla ki tujhse milun
Meri daudati bhagti jindagi

--------------------------------------------------------------------------------- 

कोई हाथ भी न मिलाएगा जो गले मिलोगे तपाक से
ये नए मिज़ाज का शहर है ज़रा फ़ासले से मिला करो...!!!

Koi hath bhi na milaye ga jo gale milo ge tapak se
Ye naye mijaaj ka shahar hai jara fasle se mila karo

--------------------------------------------------------------------------------- 

ख़ुद-कुशी के लिए थोड़ा सा ये काफ़ी है मगर
ज़िंदा रहने को बहुत ज़हर पिया जाता है,.,!!!

Khuskushi ke liye thoda sa ye kaafi hai magar
Jinda rahne ko bahut jahar piya jata hai

--------------------------------------------------------------------------------- 

जो ज़हर पी चुका हूँ तुम्हीं ने मुझे दिया
अब तुम तो ज़िंदगी की दुआएँ मुझे न दो,.,.!!!

Jo jahar pee chuka hu tumhi ne mujhe diya
Ab tum to jindagi ki duaayen mujhe na do

Best Royal, Nawabi Attitude WhatsApp and Facebook status in Hindi Font- Part 2






मेरी शराफत को तुम बुज़दिली का नाम न दो ,.,.,
दबे न जब तक घोडा ,बन्दूक भी खिलौना ही होती है ,.,!!



Meri sharafat ko tum bujdili ka naam na do
Dabe na jab tak ghoda , banddok bhi khilauna hoti hai


-----------------------------------------------------------------------



यहाँ किसकी मज़ाल है जो छेड़े दिलेर को ,.,
गर्दिश में तो कुत्ते भी घेर लेते हैं शेर को ,.,.,!!!


Yaha kiski majal hai jo chhede diler ko
Gardish me to kutte bhi gher lete hain sher ko



-----------------------------------------------------------------------



जल जाते हैं मेरे अंदाज़ से मेरे दुश्मन
एक मुद्दत से मैंने न मोहब्बत बदली और न

दोस्त बदले .!!



Jal jaate hain mere andaj se mere dushman
Ek muddat se maine na mohabbat badli aur na dost badle


------------------------------------------------------------------------



ज़ज़बात पे क़ाबू वो भी मोहब्बत में ,.,
तूफ़ान से कहते हो चुपचाप गुज़र जाओ ,.,!!


Jajbat pe kabu wo bhi mohabbat me
Toofan se kahte ho chupchap gujar jao



-----------------------------------------------------------------------



मयक़दे की इज़्ज़त का सवाल था
निकले, तो हम भी लड़खड़ा गए,.,.!!!


Maikade ki ijjat ka sawal tha
Nikale, to ham bhi ladkhada gaye




----------------------------------------------------------------------



तेरे कूचे में जो आया है ग़ुलामों की तरह ,.,
अपनी बस्ती का सिकंदर भी तो हो सकता है ,.,,!!


Tere kuche me jo aaya hai gulamon ki tarah
Apni basti ka sikandar bhi to ho sakta hai



------------------------------------------------------------------------------------



मैं कभी सिगरेट पीता नहीं

मगर हर आने वाले से पूछ लेता हूं
कि माचिस है ?

बहुत कुछ है जिसे मैं फूंक देना चाहता हूं.,.,!!


Main kabhi cigarette peeta nahi

Magar har aane wale se poonchh leta hun ke machis hai?
Bahut kuchh hai jise main foonk dena chahta hun



-------------------------------------------------------------------------------------



सुनो जिसकी फितरत थी बगावत करना ,.,
हमने उस दिल पे हुक़ूमत की है ,.,!!!


Suno jiski fitrat thi bagawat karna
Hamne us dil pe huqoomat ki hai


-------------------------------------------------------------------


सूरज, सितारे, चाँद मेरे साथ में रहे.,.
जब तक तुम्हारे हाथ मेरे हाथ में रहे.,,


साखों से टूट जाये वो पत्ते नहीं हैं हम.,,
आंधी से कोई कह दे के औकात में रहे.,.,!!!


Sooraj sitare chand mere saath me rahe
Jab tak tumhare haath mere hath me rahe


Saakhon se toot jaye wo patte nahin hai ham
Aandhi se koi kah de ke aukat me rahe


__________________________________________


गर तुझको गुरूर है सत्ता का इस कदर तो,
हम भी तख्तों को पलटने का हुनर रखते है.,.,!!


Gar tujhko hai guroor satta ka is kadar to
Ham bhi takhton ko palatane ka hunar rakhte hain


---------------------------------------------------------


भाई बोलने का हक़ मैंने सिर्फ दोस्तों को दिया है ,.,
वरना दुश्मन तो आज भी हमें बाप के नाम से पहचानते हैं ,.,!!


Bhai bolne ka hak maine sirf doston ko diya hai
Varna dushman to aaj bhi hame baap ke nam se jante hain


---------------------------------------------------------------------


इतना मगरूर मत बन मुझे वक्त कहते हैं,
मैंने कई बादशाहो को दरबान बनाया हैं!!


Itna magroor mat ban mujhe waqt kahte hain
Maine kai badshahon ko darban bnaya hai


--------------------------------------------------------------------


खून मे ऊबाल, वो आज भी खानदानी है,.,
दुनिया हमारे शौक की नहीं , हमारे तेवर की दिवानी है,.,!!!


Khoon me ubal wo aaj bhi khandani hai
Duniya hamare shauk ki nahi , hamare tevar ki diwani hai

Seene me jalan aankhon me toofan sa kyun hai - Best Urdu Ghazal by Shaharyar in hindi font

सीने में जलन आँखों में तूफ़ान सा क्यूँ है
इस शहर में हर शख़्स परेशान सा क्यूँ है

दिल है तो धड़कने का बहाना कोई ढूँढे
पत्थर की तरह बेहिस-ओ-बेजान सा क्यूँ है

तन्हाई की ये कौन सी मन्ज़िल है रफ़ीक़ो
ता-हद्द-ए-नज़र एक बयाबान सा क्यूँ है



हम ने तो कोई बात निकाली नहीं ग़म की
वो ज़ूद-ए-पशेमान पशेमान सा क्यूँ है

क्या कोई नई बात नज़र आती है हम में
आईना हमें देख के हैरान सा क्यूँ है ,.,!!!






***********************************************

Seene me jalan aankhon me toofan sa kyu hai
Is shahar me har shaksh pareshan sa kyu hai ?

Dil hai to dhadkane ka bahana koi dhunde
Patthar ki tarah behis-o-bejan sa kyu hai ?

Tanhai ki ye kaun si manjil hai rafeeko
Ta-had-e-najar ek bayaban sa kyu hai ?

Hamne koi baat nikali nahi gham ki
Wo jad-e-pashemaan sa kyu hai ?

Kya koi nayi baat najar aati hai ham me
Aaina hame dekh ke hairan sa kyu hai ?

Mehfil- Royal (Nawabi) Urdu Sher, 2 Liners, Shayri, Kavita, Ghazal, Shayri Collection in Hindi Font Part-19

यूं सुराही सा बदन लेकर मेरे सामने आया ना कर ❤ ❤
मैं शराबी हूं और शराबी का क्या भरोसा ,.,!!!

Yun surahi sa badan lekar mere samne aaya na kar
Main sharabi hun aur sharabi ka kya bharosa


----------------------------------------------------------------------


शोला हूँ भड़कने की गुज़ारिश नहीं करता ,.,
सच मुंह से निकल जाता है कोशिश नहीं करता,.,!!!

Shola hun bhadakane ki gujarish nahi karta
Sach muh se nikal jata hai koshish nahi karta




----------------------------------------------------------------------

कौन कहते हैं भगवान सोते नहीं
माँ यशोदा के जैसे सुलाते नहीं
कौन कहते हैं भगवान नाचते नहीं
गोपियों की तरह तुम नचाते नहीं,.,!!

Kaun kahta hai bhagwan sote nahi
Ma yashoda jaise sulate nahi
Kaun kahta hai bhagwan nachte nahi
Gopiyon ki tarah tum nachate nahi

----------------------------------------------------------------------

साबित कर दो के ये सोच तुम्हारी है ,,
राह चलती अकेली लड़की.. मौका नहीं एक जिम्मेदारी है,.,!!

Saabit kar do ke ye soch tumhari hai
Raah chalti akeli ladki mauka nahi ek jimmedari hai


----------------------------------------------------------------------


खुश्बू किसी गुलाब को हासिल है जिस तरह.,
वो श़ख्स मेरी ज़ात में शामिल है इस तरह.,.!!!

Khushbu kisi gulaab ko hasil hai jis tarah
Wo shaksh meri jaat me shamil hai is tarah




----------------------------------------------------------------------


मैं खुद ही कृष्ण भी और खुद ही अर्जुन हूँ इस रण का,
रोज़ अपना सारथी बनकर जीवन की महाभारत लड़ता हूँ,.,!!!

Main khud hi krishna bhi aur khud hi arjun hun is ran ka
Roj apna saarthi ban kar jeevan ki mahabharat ladta hun


----------------------------------------------------------------------


हमारा क़त्ल करने की उनकी साजिश तो देखो ..
गुज़रे जब करीब से तो चेहरे से पर्दा हटा लिया ,.,!!!

Hamara katla karne ki unki saajish to dekho
Gujre jab kareeb se to chehare se parda hata liya


----------------------------------------------------------------------


ज़मीर काँपता जरूर है, आप कुछ भी कहो ज़नाब...
कभी गुऩाह से पहले और कभी गुनाह के बाद..!!!

Jameer kanpta jaru hai aap kuchh bhi kaho janab
Kabhi gunaah se pahle aur kabhi gunaah ke baad


----------------------------------------------------------------------


रूख-ए-रोशन के आगे शमा रख कर वो युँ कहते हैं
उधर जाता है या देखें , इधर परवाना आता है,.,!!!

Rukh-e-roshan ke aage shama rakh kar wo yun kahte hain
Udhar jata hai ya denkhe idhar parwana aata hai


----------------------------------------------------------------------


दिल ना-उमीद तो नहीं नाकाम ही तो है
लम्बी है ग़म की शाम मगर शाम ही तो है,.,!!!

Dil na ummeed to nahi nakam hi to hai
Lambi hai gam ki sham magar sham hi to hai


----------------------------------------------------------------------


माना की बहोत खूबसूरत हुश्न है तुम्हारा,
लेकिन काश दिल भी होता तो और ही बात होती..!!!

Mana ki bahot khoobsurat hushn hai tumhara
Lekin kash dil bhi hota to aur hi bat hoti


----------------------------------------------------------------------


हमारे शहर के लोगों का अब अहवाल इतना है ,,,
कभी अख़बार पढ़ लेना कभी अखबार बन जाना,.,!!!

Hamare shehar ke logo ka ab ahwal itna hai
Kabhi akhbar padh lena kabhi akhbar ban jana


----------------------------------------------------------------------


रात जवान हो चली है चलो चलते हैं छत पर..
❤😊 तुम देखना चाँद को मैं तुम्हे देखूँगा...!!

Raat jawan ho chali hai chalo chalte hain chhat par
Tum dekhna chand ko mai tumhe dekhu ga


----------------------------------------------------------------------


वैसे तो अहल-ए -शराब (आदी ) हैं हम लोग
ये न समझो ख़राब है हम लोग
जब मिली आँख होश गवां बैठे
कितने हाजिर जवाब हैं हम लोग ,.,!!!

Vaise to ahal-e-sharab hain ham log
Ye na samjho kharab hain ham log
Jab mili aankh hosh gawa baithe
Kitne hajir jawab hain ham log


----------------------------------------------------------------------


दोनों हाथों से लूटती है हमें
कितनी ज़ालिम है तेरी अंगड़ाई...!!

Dono hathon se lootati hai hame
Kitni jalim hai teri angdai


----------------------------------------------------------------------


सोचते हैं तुम्हे इतना याद न करें,
लेकिन आँखें बंद करते ही.. इरादे बदल जाते हैं..!!!

Sochte hain tumhe itna yaad na kare
Lekin aankhe band karte hi irade badal jate hain


----------------------------------------------------------------------


मेरे लिए, तुझे बेताब देखने के लिए
मैं सो रहा हूँ यही ख़्वाब देखने के लिए
यक़ीन मानिए सब तजुर्बे बताते हैं
जवानी चाहिए पंजाब देखने के लिए,.,!!!

Mere liye tujhe betab dekhne ke liye
Main so raha hun yahi khwab dekhne ke liye
Yakeen maniye tajurbe batate hain
Jawani chahiye panjab dekhne ke liye


----------------------------------------------------------------------


एक मुस्कुराहट की खातिर.. मैं तो मिटता गया... !!
और उस कातिल को देखो.. कत्ल करके भी मासूम बनता गया,.,!!!

Ek muskrahat ki khatir main to mitata chala gaya
Aur us kaatil ko dekho , katl karke bhi masoom banta gaya


----------------------------------------------------------------------


रोई सारी रात दया न उसको आई।
वाह रे तेरी रहमत वाह रे तेरी खुदाई।।

Royi sari raat daya na usko aayi
Waah re teri rahmat waah re teri khudai


----------------------------------------------------------------------



सुनता कौन ग़रीब की, थमी नहीं बरसात,
टप टप करती झोंपड़ी, रोयी सारी रात !!!

Sunta kaun gareeb ki thami nahi barsaat
Tap tap karti jhopadi royi sari rat


----------------------------------------------------------------------


जमाने का दस्तूर यही है, "गालिब"...
शमा अक्सर वही बुझाते हैं,
जो उसे रोशन करते हैं......!!!

Jamane ka dastoor yahi hai Ghalib
Shama aksar wahi bujhate hain
Jo use raushan karte hain



----------------------------------------------------------------------



जिसकी आवाज में सिलवट हो निगाहों में शिकन,
ऐसी तसवीर के टुकड़े नही जोड़ा करते..!!!!

Jiski awaaj me silwat ho nigahon me shikan
Aisi tasveer ke tukde joda nahi karte


----------------------------------------------------------------------


मिल जायेंगा हमें भी कोई टूटके चाहने वाला..
अब शहर का शहर तो बेवफा नहीं हो सकता..!!!

Mil jaaye ga hame bhi koi toot kar chahne wala
Ab shehar ka shehar to bewafa nahi ho sakta


----------------------------------------------------------------------


हमसे जुनूने इश्क का आलम ना पूछिये,
अपना ही इंतजार किया है कभी-कभी,.!!!

Hamse junoon-e-ishq ka aalam na poochhiye
Apna hi intejar kiya hai kabhi kabhi


----------------------------------------------------------------------


सागर का डर भी अब ढलने लगा है,लहरो को मेरा संभलना भी खलने लगा है
हर दिशा मे मेरे चर्चे है क्योंकि,एक दिया तूफ़ान से झगड़कर भी जलने लगा है,

Saagar ka dar bhi ab dhalne laga hai, lahron ko mera sambhalna bhi khalne laga hai
Har disha me mere charche hain kyo ki ek diya toofan se jhagad kar bhi jalne laga hai


----------------------------------------------------------------------


गम का फसाना सुनने वालों आखिर ए शब आराम करो,,
कल ये कहानी फिर छेड़ेंगे हम भी जरा अब सो ले हैं !!

Gam ka fasana sunne walo aakhir-e-shab aaram karo
Kal ye kahani fir chhede ge ham bhi jara ab so lete hain


----------------------------------------------------------------------


हर चीज़ "हद" में अच्छी लगती हैं
मगर तुम हो के "बे-हद" अच्छे लगते हो
वजह पुछोगे तो उम्र गुजर जायेगी !!
कहा ना अच्छे लगते हो , तो बस लगते हो,.,!!!

Har cheej had me achhi lagti hai
Magar tum ho ke behad achhe lagte ho
Vajah poochho gi to umra gujar jaye gi
Kaha na achhe lagte ho to bas lagte ho


----------------------------------------------------------------------


उसने देखा ही नहीं अपनी हथेली को कभी;
उसमे हलकी सी लकीर मेरी भी थी!

Usne dekha hi nahi apni hatheli ko kabhi
Usme halki si lakeer meri bhi thi


----------------------------------------------------------------------


जिस्म क्या है रूह तक सब कुछ खुलासा देखिए
आप भी इस भीड़ में घुसकर तमाशा देखिए,.!!!

Jism kya hai rooh tak sab kuchh khulasa dekhiye
Aap bhi is bheed me ghus kar tamasha dekhiye


----------------------------------------------------------------------


एक रात वो गया था जहाँ बात रोक के
अब तक रुका हुआ हूँ वहीं रात रोक के,.,!!!

Ek raat wo gaya tha jahan baat rok ke
Ab tak ruka hua hun wahin raat rok ke


----------------------------------------------------------------------


मेरी सारी कोशिशें नाकाम थी उसे मनाने की..!!
पता नहीं कहाँ से शिखी है उसने अदायें रूठ जाने की..!

Meri sari koshishen nakaam thi use manane ko
Pata nahi kaha se sikhi hain usne adayen rooth jane ki


----------------------------------------------------------------------


कुछ लोग उसे पुरानी आलमारी समझते हैं
बूढी माँ को माँ नही एक बीमारी समझते हैं।!

Kuchh log use purni almari samajhate hain
Boodhi ma ko ma nahi ek bemari samajhate hain


----------------------------------------------------------------------


उठाना खुद ही पड़ता है थका टुटा बदन अपना,.,
की जब तक साँसे चलती है कन्धा कोई नही देता,.,!!

Uthana khud hi padta hai thaka toota badan apna
Ki jab tak sanse chalti hai kandha koi nahi deta


----------------------------------------------------------------------


तेरे पास जो है उसमें सब्र कर और उसकी कद्र कर दीवाने,
यहाँ तो आसमां के पास भी खुद की जमीं नहीं,.,!!!

Tere pas jo hai usme sabra kar aur uski kadra kar
Yahan to aasman ke pas bhi khud ki jamin nahi


----------------------------------------------------------------------


गर्मियां बहुत पसंद हैं मुझे, एक वजह ये भी है,
पंखा आवाज़ करने लगा है, अब मैं अपने कमरे में तनहा नहीं होता।

Garmiyan bahut pasand hai mujhe , ek vajah ye bhi hai
Pankha awaaj karne lagta hai ab main apne kamre me tanha nahi hota


----------------------------------------------------------------------


चले आती है कमरे में दबे पाँव ही, हर दफ़े..
तुम्हारी यादों को दरवाज़ा खटखटाने की भी तमीज़ नहीं,.,!!

Chale aati hai kamre me dabe pano hi har dafe
Tumhari yadon ko darwaja khatkhatane ki bhi tameej nahi


----------------------------------------------------------------------


दिल है क़दमों पर किसी के सर झुका हो या न हो
बंदगी तो अपनी फ़ितरत है ख़ुदा हो या न हो,.,!!

Dil hai kadamon par kisi ke sar jhuka ho ya na ho
Bandagi to apni fitrat hai khuda ho ya na ho


----------------------------------------------------------------------


ज़ख़्म यादों के सुलगते हैं मेरी आँखों में
ख़्वाब इन आँखों ने क्या जानिए क्या देखा था,.,!!!

Jakhm yaadon ke sulagte hain meri aankhon me
Khwab in aankhon ne kya jaaniye kya dekha tha


----------------------------------------------------------------------


न जाहिर हुई तुमसे न बयान हुई हमसे
बस सुलझी हुई आँखो मे उलझी रही मोहब्बत,.,!!!

Na jaahir hui tumse na bayan hui hamse
Bas sulajhi hui aankhon me ulajhi rahui mohabbat


----------------------------------------------------------------------


जज्बे तमाम खो गए वक़्त की धूल में।
अब दिल में धड़कनों के सिवा कुछ नहीं बचा।।

Jajbe tamam kho gaye waqt ki dhool me
Ab dil me dhadkano ke siwa kuchh nahi bacha


----------------------------------------------------------------------


नींद काभी कितना अजीब फलसफ़ा है यारो
अमीरों को गोली खाकर भी नींद नहीं आती
गरीब के बच्चे भूखे ही पत्थरों पे सो जाते हैं ,.,!!

Neend ka bhi kitna ajeeb falsafa hai yaro
Ameeron ko goli khakar bhi neend nahi aati
Gareeb ke bachhe bhookhe hi pattharon pe so jate hain


----------------------------------------------------------------------


यहाँ हर किसी को दरारों से झाँकने की आदत है....
अगर दरवाजा खोल दोगे तो कोई पूछने तक नहीं आएगा,.,!!

Yahan har kisi ko dararon me jhankne ki aadat hai
Agar darwaja khol doge to koi poochhne tak nahi aaye ga


----------------------------------------------------------------------


प्यार में इंतहान की हद तो देखो...
वो मेरी बांहों में सो गयी किसी और के लिए रोते रोते...!!!

Pyaar ki inteha ki had to dekho
Wo meri bahon me so gayi kisi aur ke liye rote rote


----------------------------------------------------------------------


तुम जानो तुम को ग़ैर से जो रस्म-ओ-राह हो
मुझ को भी पूछते रहो तो क्या गुनाह हो,.,!!!

Tum jano tum ko gair se rasm-o-raah ho
Mujhko bhi poochhte raho to kya gunaah ho


----------------------------------------------------------------------


तुम्हारा जिक्र हूआ तो महफिल तक छोड़ आए हम
गैरो के लबों पर हमें तो तुम्हारा नाम तक अच्छा नही लगता..!!!

Tumhara jikra hua to mehfil tak chhod aaye ham
Gairon ke labon par hamen to tumhara naam tak achha nahi lagta

Kyun Tabiyat Kahin Thaharti Nahi- Best Urdu Ghazal Ahmad Faraz in Hindi Font




क्यूँ तबीयत कहीं ठहरती नहीं
दोस्ती तो उदास करती नहीं,.,

हम हमेशा के सैर-चश्म सही
तुझ को देखें तो आँख भरती नहीं,.,

शब-ए-हिज्राँ भी रोज़-ए-बद की तरह
कट तो जाती है पर गुज़रती नहीं,.,






ये मोहब्बत है, सुन, ज़माने, सुन
इतनी आसानियों से मरती नहीं,.,

जिस तरह तुम गुजारते हो फ़राज़
जिंदगी उस तरह गुज़रती नहीं,.,!!!

************************************************************

Kyun tabiyat kahin thahrati nahin
Dosti to udas karti nahin

Ham hamesha ke sair- chasm sahi
Tujhko dekhen to aankh bharti nahin

Shab-e-hijra bhi roj-e-bad ki tarah
Kat to jati hai par gujarti nahin

Ye mohabbat hai, sun jamane sun
Itani aasaniyan se marti nahin

Jis tarah tum gujarte ho faraz
Jindagi us tarah gujarti nahin

Lots of Mauka Mauka Videos- Must watch before India vs Australia (Semifinal ICC Cricket World Cup 2015)

Lots of Mauka Mauka Videos are uploaded just before India vs Australia Semifinal
Gear up yourself before this awesome match :D



1. Semi Final Mauka Mauka - India Vs Australia




2. Mauka Mauka (India vs Australia) - ICC Cricket World Cup 2015



3. OMG See What this guy have done to watch semifinal- MAUKA MAUKA : INDIA vs AUSTRALIA Semi-Finals World Cup 2015



4. INDIA VS AUSTRALIA - Mauka Mauka Funny Ad - ICC Cricket World Cup 2015 - PAPPA KI PARTY !!








More Mauka Mauka Video

10 Interesting and true Facts of Life that you should always remember

Always remember first one-

1. Past is past you can't change it , Prepare a better future for you




2. If everyone is happy with you them you have made many compromises in your life

source-freshbooks

3. Don't ruin a good day by thinking about bad yesterday





4. Never complain about what your parents couldn't give you, it was probably all that they had




5. No expectations, no disappointments



6. Say this to god- My life isn't perfect, but I'm thankful for everything I have






7. Remember - Success always hugs you in private but failure always slaps you in public

8. Help Others - It will make you happy :)




9. If I open up to you, then you should know you're special to me




10.Everyone wants happiness. No one wants pain. But you can't have a rainbow, without a little rain



Stay positive. Good things will happen

Best Romantic , Love Status for WhatsApp and Facebook in Hindi Font




इन बादलो का मिजाज, मेरे महबूब सा है,
कभी टूट कर बरसते है, कभी बेरुखी से गुजर जाते हैं...!!!


-----------------------------------------------------------------------------------------


दिल खींच कर अपना तेरे पहलू में रख दिया ,
क्या इतना कम है मोहब्बत की इंतिहा के लिये,.,!!!


-----------------------------------------------------------------------------------------

होंठ तप-तप के ऐसे सुर्ख़ हुए दिखते हैं
शरारे रख दिए हों जलती हुई अंगीठी से..!!



-----------------------------------------------------------------------------------------

मोहब्बत क्या है चलो दो लब्ज़ों में बताते है
तेरा मजबूर करना मेरा मजबूर हो जाना..!!


-----------------------------------------------------------------------------------------


हमने लिया सिर्फ होंठों से जो तेरा नाम
दिल होंठो से उलझ पड़ा कि ये सिर्फ मेरा है..!!!




-----------------------------------------------------------------------------------------


अपने होंठों से मुझको चख तो जरा
मैं भी शायद शराब हो जाऊँ,.,!!!


-----------------------------------------------------------------------------------------


होठों से लगाकर पी जाऊ तुम्हे.,.,
सर से पाँव तक शराब जैसी हो तुम.,.,.,!!!


-----------------------------------------------------------------------------------------


लाल आँखे और होंठ शबनमी ,.,
पी के आये हो या खुद शराब हो ,.,!!!


-----------------------------------------------------------------------------------------


होंठ मिला दिए उसने मेरे होंठो से यह कह कर.,.,
अगर शराब छोड़ दोंगे तो ये जाम रोज मिलेगा..!!!


-----------------------------------------------------------------------------------------


उसके  होंठों को चूमा तो अहसास ये हुआ..
 एक पानी ही ज़रूरी नहीं प्यास बुझाने के लिए.,..,!!!!


-----------------------------------------------------------------------------------------


है होंठ उसके किताबों में लिखी तहरीरों जैसे..,.!!
ऊँगली रखो तो आगे पढने को जी करता है.,..!! 

New Mauka Mauka Video by Star Sports (India vs World) - ICC Cricket World Cup 2015


This is new  Mauka Mauka video just before quarter final - India vs Bangladesh by  Star Sports

Totally different from previous Mauka Mauka ads
Must watch - Awesome (Mahaul Ban Jaye ga Match ke Pahle)







Sarfaroshi ki tamanna ab hamare dil me hai -Ram Prasad Bishmil

सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है
देखना है ज़ोर कितना बाज़ू-ए-क़ातिल में है




करता नहीं क्यूँ दूसरा कुछ बातचीत,
देखता हूँ मैं जिसे वो चुप तेरी महफ़िल में है
ऐ शहीद-ए-मुल्क-ओ-मिल्लत, मैं तेरे ऊपर निसार,
अब तेरी हिम्मत का चरचः ग़ैर की महफ़िल में है
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है



वक़्त आने पर बता देंगे तुझे, ए आसमान,
हम अभी से क्या बताएँ क्या बिसमिले दिल में है
खेँच कर लाई है सब को क़त्ल होने की उमीद,
आशिक़ोँ का आज जमघट कूचः-ए-क़ातिल में है
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है

है लिए हथियार दुशमन ताक में बैठा उधर,
और हम तय्यार हैं सीना लिये अपना इधर.
ख़ून से खेलेंगे होली गर वतन मुश्किल में है,
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है

हाथ, जिन में हो जुनून, कटते नही तलवार से,
सर जो उठ जाते हैं वो झुकते नहीं ललकार से.
और भड़केगा जो शोलः सा हमारे दिल में है,
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है




हम तो घर से ही थे निकले बाँधकर सर पर कफ़न,
जाँ हथेली पर लिये लो बढ चले हैं ये कदम.
जिन्दगी तो अपनी मॆहमाँ मौत की महफ़िल में है,
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है

यूँ खड़ा मक़्तल में क़ातिल कह रहा है बार-बार,
क्या तमन्ना-ए-शहादत भी किसी के दिल में है?
दिल में तूफ़ानों की टोली और नसों में इन्क़िलाब,
होश दुश्मन के उड़ा देंगे हमें रोको न आज.
दूर रह पाए जो हमसे दम कहाँ मंज़िल में है,

जिस्म भी क्या जिस्म है जिसमें न हो ख़ून-ए-जुनून
क्या लढ़े तूफ़ान से जो कश्ती-ए-साहिल में है
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है
देखना है ज़ोर कितना बाज़ू-ए-क़ातिल में है

Rail Budget 2015- Top most funny tweets (Can't stop laughing)

Top most funny tweets about Rail Budget 2015 , I bet you can't stop laughing after reading this

1. Funny but 100% true


 2. Good Decision




3. LOL- Yaha bhi nahi chhoda





4. Anna Says even if one train leaves on time he would protest :P


5. 10 out of 10 for this wonderful tweet, (Negotiation Corner)


6. The Caring Guy- Raj aur Simran or Chennai Express ka kya hoga ?






7. Ha Ha Ha Ha



8. He must have tried to call those numbers :P


9.


10. This one is hilarious 



11. Very Deep


12. ROFL


13. I really appreciate this one :D



10 Things you should know , If you are visiting Bokaro Steel City

What wikipedia says about Bokaro

Bokaro Steel City  is a major industrial centre and the 4th largest city in the State of Jharkhand, in India. It is the district headquarters of Bokaro which is one of the most industrialized zone in India and also home to the largest steel plant in India and several other large, medium and small industries.




1. Must Visit Jagannath Temple , this temple is replica of Jagannath Temple in Puri



2. Sip a cup of Tea at Naya Mod (Pata to hoga hi)


3. Visit to Garga Dam , a popular picnic spot with great scenery 



4. Kaun kaun gaya hai yahan :P wo bhi school bunk karke ?


5. Proud of Bokaro - Bokaro Steel Plant Main Gate (Must Visit)

Steel Plant

6. Visit Ram Mandir (Constructed in 1967)


7. First and Only Shopping Mall in Bokaro


8. How can i forget City Park ?


9. Cooling Pond


10. Main Shopping hub in Bokaro- City Center